You are here
Home > Motivational >

Power of Love

प्रेम की शक्ति (Power of Love)

प्रेम ही मनुष्यत्व का दूसरा नाम है। प्रेम में पूरे जीवन का मर्म, धर्म और कर्म छुपा हुआ है। प्रेम के बिना न तो जीवन मर्म समझा जा सकता है, न धर्म का अभ्युदय हो सकता है और न ही हमारे कर्म को पवित्र बनाया जा सकता है।

प्रेम एक क्रिया है। जब आपके हाथ दूसरों की मदद करना चाहते हैं, जब आपके पैर गरीबों और जरूरतमंदों के लिए उठ खड़े होते हैं, जब आपकी आँखें उनके दुख देखने लगती हैं और आपके कान उनकी पुकार सुनने लगते हैं तो आप उनसे प्रेम करने लगते हैं।

प्रेम पाने का नहीं, देने का नाम है। वह ग्रहण का नहीं, त्याग का पर्याय है। जिसमें लेन-देन का भाव होता है, वह प्यार नहीं होकर व्यापार हो जाता है।

प्रेम सबसे बड़ा चिकित्सक है। जब आप पर्याप्त रूप से प्रेम करना सीख जाते हैं तो फिर आपको किसी दूसरी दवाई की जरूरत नहीं पड़ती। प्रेम हर समस्या को हल कर सकता है।

मनुष्य को अपनी ओर खींचने वाला यदि जगत में कोई असली चुम्बक है तो वह केवल प्रेम है।

जो प्रेम करता है, वही सच्चा सुखी और भाग्यवान है।

प्रेम थकान को मिटाता है, दु:ख को सुख में बदल देता है। यदि दिल में प्यार है तो सारा संसार खूबसूरत नजर आता है।

आपसी रिश्तों में प्यार तभी बढ़ता है, जब हम बिना कुछ पाने की -से-ज्यादा देने की इच्छा करें।

इच्छा से दूसरों को अपनी तरफ से ज्यादा रिश्ता चाहे कोई भी हो, उसे जीवंत बनाए रखने का काम, प्यार का इजहार करता है। आप जिस भी रिश्ते में बंधे हों, चाहे वह पति-पत्नी का रिश्ता हो, दोस्ती का हो, भाई-बहन का रिश्ता हो या माँ-बच्चे का, हर रिश्ते में आप यदि दिल की गहराई से समय-समय पर कुछ कांप्लीमैंट दे दें तो यकीन जानिए, वह तो आप के प्रेम से सराबोर हो ही जाएगा, आपसी रिश्तों को भी एक अनूठी ताजगी मिलेगी।

प्रेम का इजहार बेहद जरूरी होता है। मान लीजिए आप एक-दूसरे को मिस कर रहे हैं, ऐसे में यदि उसे बताएँगे नहीं, तो पता कैसे लगेगा। प्रेम की तो बुनियाद ही इजहार होती है।

रिश्तों में नजदीकी बनाए रखने के लिए साथी से ‘आई लव यू’ बोलना जरूरी नहीं है, बल्कि जरूरी है साथी के अंदाज में बात करना।

अगर आपके पास कोई खास टैलेंट है, जैसे गिटार बजाते हैं, पेंटिंग का शौक है, आप खाना अच्छा बनाते हैं या फिर कविताएँ लिखना-सुनाना पसंद है, तो आप इन टैलेंट्स को यूज करके अपने पार्टनर को अपना दीवाना बना सकते हैं। दिल के मामलों में अक्सर एक खूबसूरत पेंटिंग या कविता किसी महंगे गिफ्ट से भी ज्यादा असर डालती है।

यदि आपका साथी आपको ऐसा तोहफा दे जो आपके बहुत काम का हो, तो यह समझना होगा कि वह आपका ख्याल रखता है एवं स्वयं से अधिक आपकी भावनाओं के बारे में सोचता है। ऐसा व्यक्ति आपके लिए बेहतर साथी सिद्ध हो सकता है।

यदि आपका पार्टनर आपकी उन मामलों में भी मदद करे, जो उसकी सीमा के बाहर है तो यह मानना चाहिए कि आपको बहुत चाहता है और सदा काम करने के लिए आगे रहता है।

आप किसी स्त्री से इसलिए प्यार नहीं करते कि वह सुन्दर है। वह सुंदर इसलिए होती है क्योंकि आप उससे प्यार करते है।

दैनिक जिंदगी में प्रायः ऐसी घटनाएँ देखने-सुनने में आती हैं कि किसी नौकर से कोई चीज टूट गई या कुछ नुकसान हो गया तो मालिक ने उसको अमानवीय यातनाएँ दीं। इस प्रकार की यातना का शिकार घर के बच्चे और विशेष रूप से बहुएँ भी होती देखी गई है।

जीवन को आनंदपूर्ण बनाने के लिए उसे संपूर्णता प्रदान करने के लिए जरूरी है कि हम वस्तुओं का उपयोग करना सीखें तथा मनुष्य से प्रेम करना सीखें, न कि वस्तुओं से प्रेम और मनुष्य का उपयोग। 1

अगर आप उस शख्ससे प्रेम नहीं कर सकते, जो दिखाई देता है तो

भगवान से प्रेम कैसे कर सकते हो, जिसे कभी तुमने देखा ही नहीं। आप किसी से खुद को प्रेम करने के लिए मजबूर नहीं कर सकते, सिर्फ खुद को प्रेम करने लायक बना सकते हैं, बाकी सामने वाले पर छोड़ दें।

Leave a Reply

Top